F

Breaking News

पाक ने वीडियो रिकॉर्डिंग के लिए विंग कमांडर को रोका, इसलिए रिहाई में देरी हुई; चेकअप के लिए दिल्ली ले जाया गया


  • अपनी सेना की अच्छी छवि दिखाने के लिए पाक ने 2 दिन में अभिनंदन के 4 वीडियो बनाए
  • रिहाई से ठीक पहले रिकॉर्ड किए गए वीडियो को अपने तरीके से दिखाने के लिए पाक ने उसमें 20 से ज्यादा कट लगाए
  • 54 साल में छठी बार रद्द हुई बीटिंग रिट्रीट, इससे पहले 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के दिन रोकी थी
  • इमरान ने अमन के नाम पर अभिनंदन को रिहा किया, लेकिन पाक सेना ने एलओसी पर लगातार फायरिंग की

वाघा बॉर्डर से शिवराज द्रुपदपाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को शुक्रवार रात भारत को सौंपा। अभिनंदन ने 9.21 मिनट पर पाकिस्तान की सीमा से भारत की सीमा में कदम रखा। यहां से उन्हें मेडिकल चेकअप के लिए दिल्ली ले जाया गया। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तानी वायुसेना ने अभिनंदन को सौंपे जाने का वक्त 3 बार बदला था। देरी इसलिए भी हुई, क्योंकि रिहाई से पहले अभिनंदन के बयान की वीडियो रिकॉर्डिंग की गई। पाक विमानों की घुसपैठ को नाकाम करने के दौरान अभिनंदन का जेट पाक सीमा में क्रैश हो गया था। भारत ने बिना शर्त और सुरक्षित अभिनंदन की वापसी की मांग की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान की संसद में गुरुवार को ऐलान किया था कि विंग कमांडर को भारत को सौंपा जाएगा। हालांकि, एक ओर पाकिस्तान अमन के पैगाम के नाम पर अभिनंदन को वापस लौटा रहा है, इस दौरान उसकी सेना ने एलओसी पर लगातार फायरिंग जारी रखी।

प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- विंग कमांडर अभिनंदन का स्वागत। राष्ट्र को आपके अदम्य साहस पर गर्व है। हमारी सेनाएं 130 करोड़ भारतीयों के लिए प्रेरणा हैं।
Welcome Home Wing Commander Abhinandan!

The nation is proud of your exemplary courage.

Our armed forces are an inspiration for 130 crore Indians.

Vande Mataram!
85.4K people are talking about this
मेडिकल चेकअप के लिए दिल्ली ले जाया गया
पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग में रक्षा प्रतिनिधि वायुसेना के ग्रुप कैप्टन जॉय थॉमस कुरियन के साथ आए। मीडिया ब्रीफिंग में अधिकारियों ने कहा- अभिनंदन को अभी हमें सौंपा गया है। एसओपी के तहत हम उन्हें मेडिकल चेकअप के लिए दिल्ली ले जाएंगे। यह जरूरी है, क्योंकि वे विमान से इजेक्ट हुए हैं इसलिए उनका पूरा शरीर बेहद दबाव व तनाव से गुजरा है। 
पाक ने अभिनंदन का बयान लोकल मीडिया में जारी किया
  • न्यूज एजेंसी के मुताबिक, भारत को सौंपे जाने से पहले पाकिस्तान के अधिकारियों ने अभिनंदन से कैमरा पर बयान देने को कहा था। अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि क्या यह बयान उनसे दबाव में लिया गया है।
  • पाकिस्तान ने रात करीब 8:30 बजे यह वीडियो लोकल मीडिया में जारी किया। इसमें अभिनंदन यह बता रहे थे कि उन्हें कैसे पकड़ा गया।
  • न्यूज एजेंसी को सूत्र ने बताया- वीडियो मैसेज में अभिनंदन ने कहा कि वह पाकिस्तानी इलाके में टारगेट की तलाश में आए थे, लेकिन उनके विमान को मार गिराया गया। एक पाक सैन्य अधिकारी ने उन्हें भीड़ से बचाया। 
  • इस मैसेज में अभिनंदन ने पाक सेना की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की सेना काफी पेशेवर है और वे उससे काफी प्रभावित हुए हैं। इस दौरान उन्होंने भारतीय मीडिया की आलोचना भी की।
  • पाकिस्तान ने 2 दिन के भीतर अभिनंदन के 4 वीडियो जारी। इन सभी वीडियो में पाक सेना ने अपने पक्ष में बातें बुलवाने की कोशिश की।
पूछताछ के बाद मिलेगी घर जाने की इजाजत
वायुसेना के रिटायर्ड जूनियर वारंट ऑफिसर भास्कर मिश्रा ने बताया, "सबसे पहले एयर फोर्स की टीम अभिनंदन का मेडिकल टेस्ट करेगी। जांच में अगर मिलता है कि पाक में उनके साथ कोई ज्यादती, टॉर्चर या फिजिकल हैरेसमेंट किया गया है तो इंटरनेशनल रेड क्रॉस सोसायटी उनकी जांच करेगी और इसके बाद इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में पाकिस्तान के खिलाफ मुकदमा किया जाएगा।"
उन्होंने बताया, "जांच करने के बाद अभिनंदन का बयान लिया जाएगा कि वहां उनके साथ क्या-क्या हुआ? उनसे वहां क्या पूछताछ हुई और उन्होंने वहां क्या जानकारी दी, या नहीं दी? अगर जांच में सबकुछ ठीक निकलता है तो अभिनंदन को ड्यूटी ज्वाइन करने या फिर घर जाने की अनुमति होगी।"
एफ-16 मार गिराया था, दुश्मन के सामने निडर खड़े रहे
बुधवार को पाकिस्तान के तीन विमानों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की थी। उनके निशाने पर हमारे सैन्य ठिकाने थे। वेस्टर्न कमांड की ओर से दो मिग-21 और तीन सुखोई-30 विमानों को इसे रोकने के निर्देश दिए गए। जवाबी कार्रवाई के दौरान अभिनंदन ने पाकिस्तानी एफ-16 विमान को मार गिराया, लेकिन इस कोशिश में उनका विमान भी पाकिस्तानी सीमा में क्रैश हो गया। उन्हें बंदी बना लिया गया था। पाक सेना ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें अभिनंदन से पूछताछ की जा रही थी। लेकिन, अभिनंदन ने बड़ी ही निडरता से जानकारी देने से इनकार कर दिया था।

'एक पायलट प्रोजेक्ट पूरा हो गया'
पाकिस्तान की ओर से गुरुवार को अभिनंदन की रिहाई के ऐलान के कुछ ही देर बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली के विज्ञान भवन में शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार समारोह के दौरान स्पीच दे रहे थे। उन्होंने पाक का नाम लिए बगैर उस पर तंज कसा। प्रधानमंत्री ने कहा- "पायलट प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद उसे बढ़ाया जाता है, तो अभी एक पायलट प्रोजेक्ट हुआ है। अब रियल करना है, पहले तो प्रैक्टिस थी।" 
इससे पहले भी पाक से जवानों की रिहाई हो चुकी है
करगिल जंग के वक्त जब कम्बापति नचिकेता वायुसेना में फ्लाइट लेफ्टिनेंट थे तब उनकी उम्र 26 साल थी। उनके जिम्मे बटालिक सेक्टर की सुरक्षा थी। 27 मई 1999 को वे मिग-27 फाइटर प्लेन उड़ा रहे थे जब इंजन फेल हो जाने के चलते उन्हें इजेक्ट होना पड़ा और पैराशूट के सहारे वे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में जा गिरे। पाकिस्तान के सैनिकों ने उनके साथ बुरी तरह मारपीट की। पाक सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी के दखल के बाद उनके साथ बुरा बर्ताव रुका। भारत ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान पर दबाव बनाया और 8 दिन बाद नचिकेता की रिहाई हो सकी।

1965 की भारत-पाक जंग के वक्त भी कई भारतीय सैनिकों को पाक ने बंदी बना लिया था। इनमें एक स्क्वॉड्रन लीडर केसी करियप्पा भी थे। उनके विमान को पाकिस्तानी वायुसेना ने निशाना बनाया था। इसके बाद उन्हें पाकिस्तान ने बंदी बना लिया था। जब जंग खत्म हुई तो चार महीने बाद उनकी रिहाई हो सकी।

No comments